(BCA Course Details In Hindi) बीसीए कोर्स करने के फायदे फायदे, जॉब और सैलरी

WhatsApp Group Join Now

BCA Course Details In Hindi: अगर आप कंप्यूटर की नॉलेज लेना चाहते है और कम से कम समय में विभिन्न कंप्यूटर का उपयोग करना सीखना चाहते है तो आपके लिए बीसीए करना एक बेहतर विकल्प है। और इस पोस्ट में मैं आपको BCA Course क्या है, कैसे करें, और इससे सम्बंधित पूरी जानकारी देने वाले हैं। जिस तरह से आज हर क्षेत्र का डिजिटलीकरण हो रहा है इसे देखते हुए कम्प्यूटर की मांग बहुत बढ़ गयी है।

और अगर आप एक इनफार्मेशन सिस्टम मैनेजर ,कंप्यूटर ऑपरेटर, आदि की नौकरी पाना चाहते तो BCA Course में आप इससे सम्बंधित सीख सकते है। इस लेख में हम आपको BCA course details in hindi के बारे में संपूर्ण जानकारी देने वाले हैं जिसमें आप जानेंगे कि इसमें क्या पढ़ाया जाता है, कौन कर सकता है, फीस कितनी है, और इसे करने के बाद नौकरी क्या होंगी आदि। तो आप इस लेख को अंतिम तक अवश्य पढ़े।

बीसीए कोर्स क्या होता है? (BCA Kya Hai)

BCA, जिसका पूर्ण नाम Bachelor of Computer Applications होता है। यह एक प्रोफेशनल डिग्री कोर्स है। और यह BCA 3 वर्ष का कोर्स होता है। इस कोर्स के दौरान छात्रों को कंप्यूटर एप्लीकेशन तथा कंप्यूटर साइंस से संबंधित जानकारी दी जाती है।

BCA एक प्रकार से टेक्निकल कोर्स है जिसे करने के बाद छात्र कंप्यूटर रिलेटेड फील्ड में करियर बना सकते हैं। बीसीए करने के बाद छात्र आगे की पढ़ाई जारी करते हुए अन्य कोर्स जैसे कि एमसीए भी कर सकते हैं। बीसीए कोर्स के दौरान छात्रों को सॉफ्टवेयर आदि के बारे में बताया जाता है।

BCA Course Details In Hindi मुख्य जानकारी

आर्टिकल का नामBCA Course Details In Hindi
कोर्स का नामबीसीए
पाठ्यक्रम स्तरग्रेजुएशन
कोर्स की अवधि3 वर्ष (6 semester)
पात्रताकिसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से 12th
प्रवेश प्रक्रियाट्यूशन शुल्क
परीक्षा का प्रकारसेमेस्टर वाइज
नौकरी प्रोफ़ाइल वेब डेवलपर, प्रोग्रामर, ग्राफिक डिजाइनर
प्लेसमेंट के अवसर सरकारी और निजी क्षेत्र में”

BCA करने के लिए जरूरी पात्रता (BCA Course Eligibility in Hindi )

० BCA कोर्स करने के लिए पात्रता अलग-अलग इंस्टिट्यूट के लिए अलग हो सकता है। बीसीए कोर्स 12वीं पास करने के बाद गवर्नमेंट या प्राइवेट यूनिवर्सिटी से कर सकते हैं।

० वैसे तो बीसीए कोर्स किसी भी स्ट्रीम (साइंस, आर्ट्स, कॉमर्स) के छात्र कर सकते हैं। लेकिन बहुत से कॉलेज में एडमिशन के लिए कुछ कंडीशन अप्लाई करते हैं जैसे कि वे सिर्फ साइंस स्ट्रीम के छात्रों का ही एडमिशन करते हैं।

० बहुत से इंस्टिट्यूट में बीसीए में एडमिशन के लिए साइंस स्ट्रीम के साथ मैथ्स सब्जेक्ट अनिवार्य है।

० इसलिए आप जिस भी इंस्टीट्यूट से बीसीए कोर्स करना चाहते हैं। उस इंस्टिट्यूट की पूरी जानकारी अवश्य प्राप्त कर लें। कि आप वहां पर एडमिशन के लिए एलिजिबल हैं या नहीं।

० बीसीए में एडमिशन के लिए 12वीं में कम से कम 50% मार्क्स होने चाहिए। लेकिन अच्छे कॉलेज में एडमिशन के लिए कम से कम 60 से 70 परसेंट मार्क्स हों तो सही है।

बीसीए कोर्स में प्रवेश प्रकिया

अगर आप बीसीए कोर्स में प्रवेश लेना चाहते है तो उसके लिए सभी शिक्षण संसथान की अलग-अलग प्रवेश प्रक्रिया होती है। कुछ कॉलेज एंट्रेंस एग्जाम कराते है जो भी स्टूडेंट एंट्रेंस एग्जाम में पास होते है उन्हें ही प्रवेश मिलता है।

लेकिन ज्यादातर कॉलेज बिना एंट्रेंस एग्जाम के ही आपको बीसीए कोर्स में प्रवेश दे देते है। उसके लिए आपको कॉलेज में जाकर प्रवेश फॉर्म भरना होता है। जब आप कॉलेज में फॉर्म को भरकर जमा कर देते है तो आपका प्रवेश हो जाता है

बीसीए कोर्स की फीस कितनी होती है? ( BCA Course ki fees kitni hoti hai)

बीसीए कोर्स करने में कितनी फीस लगेगी ये पूरी तरह से कॉलेज पर निर्भर करता है। यदि आप किसी भी गवर्नमेंट कॉलेज से बीसीए कोर्स करते है तो इसके लिए आपको 15 से 20 हजार रूपये प्रति सेमेस्टर देने पड़ सकते है। और वही अगर आप बीसीए किसी अच्छे प्राइवेट कॉलेज, यूनिवर्सिटी से करते है तो आपको फीस के रूप में प्रति सेमेस्टर 50 हजार से 1 लाख रूपये देने पड़ सकते है। क्योंकि ये पूरी तरह से कॉलेज पर निर्भर करता है।

बीसीए कोर्स करने के फायदे ( BCA Course karene ke fhayde)

बीसीए कोर्स को करने के कई फायदें हैं जिनमें मुख्य रूप से आपको कंप्यूटर एप्लीकेशन की जानकारी अच्छे से हो जाते हैं जिसकें बाद आप कई तरह की संस्थानों में आसानी से जॉब करने के लिए योग्य हो जाते हैं।

० बीसीए कोर्स करने के बाद आपको कंप्यूटर फील्ड की एक डिग्री मिल जाती है।

० BCA Course करने के बाद आप Master Degree कर सकते है जैसे MCA, MBA जैसे मास्टर कोर्स कर सकते है ।

० बीसीए कोर्स करने के बाद आप खुद की एक IT Company खोल सकते है ।

० बीसीए कोर्स करने के बाद आप एक सॉफ्टवेयर इंजिनियर बन जाते है ।

० कंप्यूटर प्रोग्रामिंग का ज्ञान होने पर, आप अपने दम पर सॉफ्टवेयर, वेबसाइट, ऐप आदि बना सकते हैं।

० बीसीए कोर्स करने के बाद MCA, MBA जैसी उच्च शिक्षा के लिए आगे भी पढ़ सकते है।

बीसीए करने के बाद कौन सी जॉब मील सकती है? ( BCA karne ke bad kon kon si job milti hai)

बीसीए करने के बाद आप कई क्षेत्र में जॉब करने के लिए योग्य हो जातें हैं जिसके बाद आप निम्न क्षेत्र में जॉब के लिए आवेदन कर सकते हैं।

० इनफार्मेशन सिस्टम मैनेजर
० कंप्यूटर ऑपरेटर
० सॉफ्टवेर प्रोग्रामर
० सॉफ्टवेयर इंजीनियर
० कंप्यूटर सपोर्ट सर्विस स्पेशलिस्ट
० सॉफ्टवेयर डेवलपर
० सॉफ्टवेयर टेस्टर
० प्रोग्रामरतक सॉफ्टवेयर कंसल्टेंट
० गेम डिज़ाइनर
० डेटाबेस एडमिनिस्ट्रेटर
० बिजनेस एनालिस्ट
० कंप्यूटर प्रोग्रामर
० वेब डिज़ाइनर
० एप्लिकेशन डिज़ाइनर

बीसीए कोर्स करने के बाद सैलरी कितनी मिलती है

बीसीए कोर्स करने के बाद जब आपकी पहली नौकरी लगती है तो आपको 15 हजार से लेकर 20 हजार तक दिए जायेंगे। जैसे जैसे आपकी एक्सपीरियंस बढ़ती जाएगी। आपकी सैलरी भी बढ़ती जाएगी। अगर आप किसी इंटरनेशनल कंपनी में काम करते है तो आपकी सैलरी 50 हजार से लेकर 1 लाख तक हो सकती है।

बीसीए कोर्स के लिए अच्छे कॉलेज

० National Institute Of Management (BCA Colleges In Mumbai)
० The Oxford Institute Of Science, Bangalore
० Department Of Computer Applications, SRM University, Chennai
० Indira Gandhi National Open University, Delhi
० Symbiosis Institute Of Computer Studies And Research (BCA Colleges In Pune)
० Devi Ahilya University, Indore

बीसीए कोर्स के बाद आगे की पढ़ाई

बीसीए कोर्स के बाद आगे की पढ़ाई करने के लिए नीचे आपको कोर्स बताया गया हैं।

० मास्टर ऑफ कम्प्यूटर एप्लीकेशन (एमसीए)
० मास्टर डिग्री इन इनफार्मेशन मैनेजमेंट (एमआईएम)
० मास्टर इन कंप्यूटर मैनेजमेंट (एमसीएम)
० पोस्ट ग्रेजुएट प्रोग्राम इन कॉर्पोरेट स्टडीज (पीजीपीसीएस)
० इनफार्मेशन सिक्योरिटी मैनेजमेंट(आईएसएम)
० मास्टर ऑफ बिज़नस एडमिनिस्ट्रेशन (एमबीए)

Leave a Comment