इंदिरा वन मितान योजना: CG Indira Van Mitan Yojana 2022

CG Indira Van Mitan Yojana: छत्तीसगढ़ सरकार ने एक नई योजना इंदिरा वन मितन योजना शुरू की है जिसके तहत राज्य में वनवासियों के विकास के लिए कई कार्य किए जाएंगे। इस नई CG Indira Van Mitan Yojana का मुख्य उद्देश्य प्रदेश के वनवासियों को सुखी व वनांचल के गांवों को स्वावलंबी बनाना है। इंदिरा वन मितन योजना के तहत छत्तीसगढ़ राज्य के आदिवासी क्षेत्र के 10,000 गांवों में युवाओं के समूह बनाकर उनके माध्यम से सभी वन आधारित आर्थिक गतिविधियां करना है

छत्तीसगढ़ राज्य की इस नई CG Indira Van Mitan Yojana के तहत गठित समूहों के माध्यम से ही वनोपज की खरीद, प्रसंस्करण और विपणन की व्यवस्था सुनिश्चित की जाएगी और योजना के तहत बनने वाले इन समूहों के माध्यम से वनवासियों के स्वरोजगार और उनकी समृद्धि को नए के माध्यम से खोला जाएगा। तो दोस्तो इस लेख में हम आपको CG Indira Van Mitan Yojana से संबंधित सभी जानकारी देने वाले हैं तो आप इस लेख को पूरा पढ़े।

CG Indira Van Mitan Yojana 2022

छत्तीसगढ़ राज्य ने CG Indira Van Mitan Yojana नाम से एक नई योजना शुरू की है। इस योजना का मुख्य उद्देश्य वनवासियों को आत्मनिर्भर बनाना है। इसके अलावा, राज्य सरकार आदिवासी क्षेत्रों के 10,000 गांवों में युवाओं के समूह स्थापित करेगी और उन्हें सभी वन आधारित आर्थिक गतिविधियों को जारी रखने की सभी जिम्मेदारी दी जाएगी। इस कदम से वनवासियों को काम करने और कुछ पैसे कमाने के अवसर मिलेंगे CG Indira Van Mitan Yojana के अनुसार, सरकार 19 लाख से अधिक परिवारों को शामिल करने की योजना बना रही है। इसके अलावा, समूह पेड़ों का प्रबंधन भी देखेंगे और वन क्षेत्रों में पेड़ों से वनोपज प्राप्त कर सकेंगे।

CG Indira Van Mitan Yojana 2022: Highlights

योजना का नामCG Indira Van Mitan Yojana 2022
किसने घोषणा कीमुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने
Launch Date09 अगस्त 2020
राज्य का नामछत्तीसगढ़
लाभार्थीराज्य के वनवासी लोग
उद्देश्यवनांचल लोगों को आत्मनिर्भर बनाना
पंजीकरण साल2022
आधिकारिक वेबसाईटtribal.cg.gov.in
योजना स्टेटसचालू है

Benefits of CG Indira Van Mitan Yojana 2022

• वनवासियों के लिए रोजगार और स्वरोजगार के नए अवसर।

• योजनान्तर्गत गठित समूहों को वन प्रबंधन अधिकार।

• वन समूहों के माध्यम से बेची जाने वाली वन उपज का सही मूल्य।

• प्रत्येक विकासखण्ड में वनोपज प्रसंस्करण इकाई की स्थापना।

• वनवासियों की आय बढ़ाने के लिए लकड़ी के स्थान पर फल एवं वन औषधियों का रोपण।

• लघु वनोपज की खरीद एवं उनके समर्थन मूल्य में वृद्धि।

• इस योजना से करीब 5 से 6 लाख लोग जुड़ेंगे।

Documents required for CG Indira Van Mitan Yojana 2022

निवास प्रमाण पत्र – छत्तीसगढ़ के निवासियों को अपना निवास प्रमाण पत्र की कॉपी दिखानी होगी।

आधार कार्ड – आवेदकों की पहचान के लिए आवश्यक हैं वे अपना आधर कार्ड अवश्य याद रखें।

जाति प्रमाण पत्र – इस योजना में चुकी जाति पात्रता भी सुनिश्चित की हैं इसलिए इसका प्रमाण पत्र भी फॉर्म में अटैच करना आवश्यक है।

बैंक खाता एवं मोबाइल नंबर – इस योजना में आवेदन करने वाले आवेदकों के पास उनका खुद का एक बैंक खता होना चाहिए जोकि उनके मोबाइल नंबर से जुड़ा हो।

Homepagenbsslup.in

Leave a Comment

error: Content is protected !!