इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना 2022: Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana

Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana: राजस्थान सरकार ने इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना 2022 शुरू की है। यह योजना राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत द्वारा शुरू की गई है। इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना 2022 को राजस्थान सरकार द्वारा Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana के रूप में भी जाना जाता है। इस योजना के तहत सरकार का लक्ष्य राजस्थान में गर्भवती महिलाओं को 6000 रुपये प्रदान करना है। 6000 की यह सहायक राशि पांचवें चरण में दूसरे बच्चे के जन्म पर प्रदान की जाएगी। इस लेख में हम आपको इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना 2022 के बारे में पूरी जानकारी देने वाले हैं तो आप इस लेख को पूरा पढ़े।

Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana 2022

राजस्थान सरकार ने इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना 2022 नाम से एक नई योजना शुरू की है। पूर्व पीएम श्रीमती की 103वीं जयंती के दौरान इस योजना से राजस्थान राज्य की प्रत्येक गर्भवती महिला को लाभ होगा। इंदिरा गांधी। इस Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana के तहत राज्य सरकार गर्भवती महिला को दूसरे बच्चे के जन्म पर 6000 रुपये की आर्थिक मदद देने का लक्ष्य रखेगी।

राजस्थान सरकार की Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana अपने प्रारंभिक चरण के दौरान आदिवासी जिलों डूंगरपुर, उदयपुर, प्रतापगढ़ और बांसवाड़ा में लागू की गई है। इस योजना के तहत करीब 3.45 लाख महिलाएं हैं जो दूसरे बच्चे के जन्म से लाभान्वित होती हैं इस योजना के तहत, पात्रता शर्तों को पूरा करने पर महिलाओं को लाभार्थी के रूप में चुना जाएगा।

बैंक खाते की मदद से कुल वित्तीय राशि सीधे हर महिला को हस्तांतरित की जाएगी। इसलिए, प्रत्येक महिला के पास बैंक खाता होना अनिवार्य है और यह आधार कार्ड से जुड़ा हुआ है। इस लेख के माध्यम से, हम Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana से संबंधित सभी जानकारी दिया हैं।

Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana 2022: Highlights

योजना का नामइंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना
कब शुरू की गयी19 नवम्बर 2020
विभागचिकित्सा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग राजस्थान
महिला एवं बाल विकास विभाग
योजना शुरू की गयीमहिला एवं बाल विकास मंत्री ममता भूपेश जी के द्वारा
लाभार्थीराज्य में दूसरे बच्चे को जन्म देने वाली गर्भवती महिलाएं
उद्देश्यमहिलाओं के स्वास्थ्य देखभाल के लिए आर्थिक सहायता देना
लाभ6,000 रुपये सहायता राशि
श्रेणीराजस्थान सरकारी योजनाएं
वर्तमान साल2021
आधिकारिक वेबसाइटwcd.rajasthan.gov.in

Indira Gandhi matritva Yojana 2022 amount in installment

क़िस्तआर्थिक सहायता के रूप
में दी जाने वाली धनराशि
सहायता प्रदान करने का समय
प्रथम क़िस्त1000 रूपएगर्भावस्था जाँच और
पंजीकरण होने पर
दूसरी क़िस्त1000 रूपएदो प्रसव पूर्व
जांच होने पर
तीसरी क़िस्त1000 रूपएसंस्थागत प्रसव
होने पर
चौथी क़िस्त2000 रूपएबच्चे की जन्म से 105 दिन तक सभी
नियमित टीके लगने तथा बच्चे के
जन्म का पंजीकरण होने की स्थिति में
पांचवी क़िस्त1000 रूपएबच्चे के जन्म के 3 माह के भीतर
परिवार नियोजन के साधन अपनाने पर

Eligibility Criteria for Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana 2022

• प्रत्येक आवेदक या महिला राजस्थान का स्थायी निवासी होना चाहिए।

• जो महिलाएं दूसरी बार जन्म देने के लिए तैयार हैं उन्हें इस योजना का लाभ मिल सकता है।

• साथ ही, हर पात्र महिला का बैंक खाता है और इसे आधार कार्ड से जोड़ा जाना चाहिए।

Required Document for Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana 2022

• आधार कार्ड
• बीपीएल राशन कार्ड
• बैंक विवरण
• चार पासपोर्ट साइज फोटो
• मोबाइल नम्बर
• आवास प्रमाण पत्र
• आय प्रमाण पत्र

Phase 1 Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana 2022

यहां हम Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana के चरण 1 पर चर्चा करेंगे। जैसा कि हम जानते हैं कि राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत के माध्यम से राजस्थान के चार जिलों में पायलट प्रोजेक्ट के आधार पर इस योजना की शुरुआत की गई थी। जिलों से प्राप्त आंकड़ों के अनुसार इस योजना का और विस्तार होगा।

• प्रतापगढ़
• उदयपुर
• बांसवाड़ा
• डूंगरपुर

How to Register for Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana 2022

आंगनवाड़ी केंद्र राजस्थान इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना 2022 नामक योजना का आयोजन करेंगे। एएनएम और आशा सहयोगिनी गर्भवती महिलाओं और उनके बच्चों के पोषण की देखभाल करेंगी

जिन्होंने Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana योजना के लिए आवेदन किया था। आधिकारिक वेबसाइट वर्तमान में उपलब्ध नहीं है और सरकार द्वारा आधिकारिक वेबसाइट जारी करने के बाद हम आपको अपडेट करेंगे।

Homepagenbsslup.in

Leave a Comment

error: Content is protected !!