(JSSK) जननी शिशु सुरक्षा योजना 2022 : Janani Shishu Suraksha Yojana

Janani Shishu Suraksha Yojana: भारत सरकार ने 1 जून, 2011 को janani suraksha yojana शुरू किया है, जो सार्वजनिक स्वास्थ्य संस्थानों में प्रसव कराने वाली सभी गर्भवती महिलाओं को सिजेरियन सेक्शन सहित बिल्कुल मुफ्त और बिना किसी खर्च के डिलीवरी का अधिकार देता है। इस पहल में मुफ्त दवाएं, निदान, रक्त और आहार, घर से संस्थान तक मुफ्त परिवहन, रेफरल और ड्रॉप बैक होम के मामले में सुविधाओं के बीच निर्धारित किया गया है।

जन्म के एक साल बाद तक इलाज के लिए सार्वजनिक स्वास्थ्य संस्थानों में पहुंचने वाले सभी बीमार नवजात शिशुओं के लिए भी इसी तरह की पात्रताएं रखी गई हैं। इस लेख में हम आपको janani shishu suraksha yojana के बारे में सारी विस्तृत जानकारी दिया हैं आप लेख को पूरा जरूर पढ़े

Janani Shishu Suraksha Yojana 2022 : Highlights

योजना का नामजननी शिशु सुरक्षा योजना
योजना शुरूआत की तिथि1 जून, 2011
मंत्रालयस्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय
मिशनराष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन
योजना का उद्देश्यमाता तथा शिशु को स्वास्थ सेवाएं प्रदान करना
लाभार्थीमाँ और शिशु
आधिकारिक वेबसाइटhttps://nhm.gov.in/

About Janani Shishu Suraksha Yojana

janani shishu suraksha yojana 1 जून, 2011 को लॉन्च किया गया था गर्भवती महिलाओं के लिए मुफ्त और कैशलेस डिलीवरी, मुफ्त सी-सेक्शन, मुफ्त दवाएं और उपभोग्य वस्तुएं, मुफ्त निदान, स्वास्थ्य संस्थानों में रहने के दौरान मुफ्त आहार, रक्त का मुफ्त प्रावधान, उपयोगकर्ता शुल्क से छूट, घर से स्वास्थ्य संस्थानों तक मुफ्त परिवहन आदि जन्म के 30 दिन बाद तक बीमार नवजात शिशुओं के लिए नि:शुल्क पात्रता। अब बीमार शिशुओं को कवर करने के लिए इसका विस्तार किया गया है

मुफ्त इलाज, मुफ्त दवाएं और उपभोग्य वस्तुएं, मुफ्त निदान, रक्त का मुफ्त प्रावधान, उपयोगकर्ता शुल्क से छूट, घर से स्वास्थ्य संस्थानों तक मुफ्त परिवहन, रेफरल के मामले में सुविधाओं के बीच मुफ्त परिवहन और संस्थानों से घर तक मुफ्त वापसी।

राज्यों द्वारा जननी शिशु सुरक्षा कार्यक्रम (जेएसएसके) के कार्यान्वयन का आकलन करने के लिए विभिन्न स्तरों पर आवधिक समीक्षा और क्षेत्र का दौरा किया जाता है। janani suraksha yojana के शुभारंभ के बाद से, नौ सामान्य समीक्षा मिशन (सीआरएम) शुरू किए गए हैं।

Positive impact of Janani Shishu Suraksha Yojana

• सभी राज्यों में नीतिगत अभिव्यक्ति और अधिकारों के बारे में जानकारी का प्रसार मौजूद है।

• janani shishu suraksha yojana के तहत गर्भवती महिलाओं के अधिकारों के बारे में जागरूकता में सुधार हुआ है।

• गर्भवती महिलाओं और एक वर्ष तक के बीमार शिशुओं के लिए janani shishu suraksha yojana पात्रता सभी राज्यों में लागू है, जिसके परिणामस्वरूप जेब से खर्च में काफी कमी आई है।

• सभी राज्यों में मुफ्त दवाएं, निदान, आहार और घर से सुविधा परिवहन के साथ-साथ ड्रॉप बैक में सुधार हुआ है।

• सभी राज्यों में सभी गर्भवती लाभार्थियों को ओपीडी और आईपीडी सेवाएं मुफ्त प्रदान की जाती हैं।

• अधिकांश राज्यों में गर्भवती महिलाओं के लिए बुनियादी प्रयोगशाला परीक्षणों सहित निःशुल्क निदान सुविधाओं के प्रावधान में सुधार हुआ है।

• सभी जिला चिकित्सालयों में गर्भवती महिलाओं एवं बीमार शिशुओं के लिए रक्त की व्यवस्था उपलब्ध है।

• अधिकांश राज्यों में गर्भवती लाभार्थियों को नि:शुल्क आहार उपलब्ध कराया जा रहा है

More Yojana UpdateClick Here

Leave a Comment

error: Content is protected !!