श्रमेव जयते योजना क्या है?: Shramev Jayate Yojana 2023

Shramev Jayate Yojana: श्रमेव जयते योजना को पंडित दीनदयाल उपाध्याय श्रमेव जयते कार्यक्रम के नाम से भी जाना जाता है, जिसे भारत सरकार के तहत अक्टूबर 2014 को पीएम नरेंद्र मोदी द्वारा लॉन्च किया गया था। यह Shramev Jayate Yojana उद्योगों के विकास के लिए एक पहल के रूप में शुरू की गई थी। इसका उद्देश्य श्रमिकों को कौशल प्रशिक्षण प्रदान करने के लिए सरकारी सहायता का विस्तार करना भी है।

सरकार ने पंडित दीनदयाल उपाध्याय श्रमेव जयते कार्यक्रम के तहत पांच मुख्य योजनाएं शुरू कीं, जो एक समर्पित श्रम सुविधा पोर्टल, एक बिल्कुल नई रैंडम निरीक्षण योजना, यूनिवर्सल अकाउंट नंबर (यूएएन), अपरेंटिस प्रोत्साहन योजना और संशोधित राष्ट्रीय स्वास्थ्य बीमा योजना हैं। इस लेख में हम आपको इस Shramev Jayate Yojana से संबंधित सभी जानकारी देने वाले हैं तो आप इस लेख को पूरा पढ़े।

Benefits of Shramev Jayate Yojana 2023

• श्रमेव जयते योजना के माध्यम से EPF के लगभग 4 करोड़ ग्राहकों के लिए पूरी जानकारी को केंद्रीय रूप से एकत्रित की गई है ।

• यह श्रमेव जयते योजना को डिजिटाइज़ किया गया है और सभी लाभार्थी को UAN आवंटित का लाभ दिया जायेगा ।

• 16 अक्टूबर , 2014 तक लगभग 2 करोड़ ग्राहकों को UAN के माध्यम से पोर्टेबिलिटी का लाभ प्रदान किया गया था ।

• समाज के कमजोर वर्ग को वित्तीय समावेश और विशिष्ट पहचान के लिए UAN ने बैंक खाते और आधार कार्ड और अन्य KYC विवरणों के साथ जोड़ा जा रहा है ।

• श्रमेव जयते योजना के माध्यम से 1000 रुपए प्रति मास वेतन सीमा बढ़ा दी गई है ।

• इस योजना के अंतर्गत कर्मचारियों के लिए न्यूनतम पेंशन दिया जायेगा ।

• कर्मचारी का EPF खाता अब मासिक रूप से अपडेट किया जाएगा और साथ ही उसे एसएमएस के माध्यम से सूचित भी किया जाएगा ।

• EPF के अंतर्गत कमजोर समूहों को 6500 रुपए से 15,000 रुपए प्रति मास सुनिश्चित कवर दिया गया है।

Features of Shramev Jayate Yojana 2023

• इस योजना के माध्यम से 6.50 लाख संगठनों और 1,800 इंस्पेक्टरों को यूनिफाइड लेबर पोर्टल के बारे में SMS या Email भेजा जाएंगे ।

• और ऑनलाइन पंजीकरण की सुविधा के लिए इकाइयों को विशिष्ट श्रम पहचान संख्या आवंटित की जाएगी ।

• इस योजना के अंतर्गत अनिवार्य निरीक्षण सूची के गंभीर मामलों को शामिल किया गया है ।

• श्रमेव जयते योजना से युवाओं की काबिलियत बढ़ेगी और व्यवसाय करना आसान होगा ।

• निरीक्षकों को निरीक्षण पूरा करने के 72 घंटे के अंदर अपनी रिपोर्ट को पोर्टल पर अपलोड करना होगा ।

• इस 16 इकाइयो को केवल एक समेकित रिटर्न ऑनलाइन में दाखिल कराई जाएगी ।

• इस योजना में पोर्टल की मदद से समय पर शिकायत का निवारण होगा

Latest Information UpdateClick Here

Leave a Comment

error: Content is protected !!